Author Topic: Jigar Moradabadi  (Read 20 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Ruby Singh

  • Newbie
  • *
  • Posts: 24
Jigar Moradabadi
« on: December 18, 2014, 11:07:09 AM »
Jigar sahab ki kalam se...

आज क्या हाल है यारब सरे महफिल मेरा
कि निकाले लिये जाता है कोई दिल मेरा

सुब्ह तक हिज्र मे क्या जानिये क्या होता है
शाम ही से मेरे काबू मे नहीं दिल मेरा

पाया जाता है तेरी शोखी ए रफ्तार का रंग
काश पहलू मे धडकता ही रहे दिल मेरा

कुछ धडकता तो है पहलू मे मेरे रह रहकर
खुदा जाने तेरी याद है या है दिल मेरा
````````````"जिगर मुरादाबादी"````````````````