Author Topic: idiot कहींका  (Read 66 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Sagar

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 326
  • Gender: Male
  • Be melting snow~ Rumi
idiot कहींका
« on: July 02, 2014, 06:18:55 AM »
इक रोज़ वो सफ़ेद पश्मीना शाल अपने कन्धों पर रख कर
मुझसे मिलने आई थी
और आते ही कहा - कैसे लग रही हूँ ?
मैंने भी हंस के कह दिया था-  ठीक ठाक...

उसने मुह बनाकर फिर कहा  - चश्मा लगा के देखो पश्मीना शाल है ये
मैंने  हाथ से छू कर कहा था के - duplicate है, दुकानदार ने ठग लिया तुम्हें ...
याद है मुझे आज भी उसका गुस्से में मुझ - idiot कहींका कहना
मोमिन न मैं फ़िराक न ग़ालिब न मीर हूँ
इक आग का गोला हूँ मैं अर्जुन का तीर हूँ

Rashmi

  • Global Moderator
  • ***
  • Posts: 1893
  • Gender: Female
  • Hum se khafa zamaana to Hum bhi jamaane se khafa
Re: idiot कहींका
« Reply #1 on: July 02, 2014, 07:57:42 AM »
:)
Rashmi Sharma

gooDe akkhar ,fatti sukki
adiyo meri gaachi mukki
sukke hanjhu akkhaN waale
haaDa! akkhar mooloN kaale

madhur

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 140
Re: idiot कहींका
« Reply #2 on: July 08, 2014, 04:41:42 PM »
ohh